Tata Tigor CNG review: जानिए चलाने में कैसी है टाटा की नई सीएनजी कार टिगोर, पढ़ें रिव्यू

टाटा मोटर्स ने टिगोर और टियागो में 1.2-लीटर Revtron पेट्रोल इंजन इस्तेमाल किया है। सीएनजी मोड में ये 3-सिलेंडर इंजन 74 हॉर्सपावर और 95 Nm की पीक टॉर्क जेनरेट करता है वहीं पेट्रोल मोड में आउटपुट बढ़ के 86 हॉर्सपावर और 113 Nm की पीक टॉर्क पैदा करता है।

Atul YadavPublish: Sat, 29 Jan 2022 04:36 PM (IST)Updated: Sun, 30 Jan 2022 07:30 AM (IST)
Tata Tigor CNG review: जानिए चलाने में कैसी है टाटा की नई सीएनजी कार टिगोर, पढ़ें रिव्यू

नई दिल्ली,अनिर्बान मित्रा ऑटो। पेट्रोल और डीजल की कीमतें बढ़ने के बाद लोग विकल्प की तलाश करने लगे। इलेक्ट्रिक वाहन बाजार में अभी तक किफायती नहीं हो पाए हैं। ऐसे में सीएनजी कार एक यारार्थ विकल्प बन जाती है। अगर आप भी कोई सीएनजी कार खरीदने का प्लान बना रहे हैं तो, आज हम टाटा मोटर्स की हालिया लॉन्च सीएनजी कार टाटा टिगोर का रिव्यू लेकर आपके सामने आए हैं, जहां हम आपको टाटा टिगोर सीएनजी की कीमत, परफॉर्मेंस, फीचर्स और सेफ्टी के बारे में बताएंगे।

कीमत और वैरिएंट्स:

कीमतों की बात करे तो, टाटा मोटर्स ने टिगोर सीएनजी को दो ट्रिम में पेश किया है और इसकी कीमत 7.69 लाख रुपये से 8.29 लाख रुपये (एक्स-शोरूम) के बीच। टिगोर के सीएनजी मॉडल इसके पेट्रोल मॉडल के मुकाबले 90,000 रुपये महंगी हैं और ये गाड़ी हुंडई ऑरा और मारुति सुजुकी द्जिरे को टक्कर देगी।

डिजाइन:

टिगोर एक सब-4 मीटर सेडान है और इसका BS6 फेसलिफ्ट 2020 में उतारा गया था। डिजाइन के मामले में सीएनजी मॉडल पेट्रोल टिगोर के की तरह ही दिखता है, केवल i-CNG लोगो हरे रंग में टेल गेट पर लगाया गया है। इसमें एलईडी हेडलाइट्स और ग्रिल पर ट्राई-एरो डिजाइन दिए गए हैं। आपको 14-इंच स्टाइलाइज्ड व्हील मिलते हैं और छोटे क्रोम एलिमेंट्स टिआगो सीएनजी के पूरे लुक अलंकृत करते हैं।

फीचर्स:

बूट में एक 60-लीटर CNG टैंक रखा गया है, जिससे जगह कम होकर मात्र 205-लीटर रह गई है। हालांकि, सभी सीएनजी कारों में बूट स्पेस की कमी एक समस्या है। केबिन में इस्तेमाल किए गए फैब्रिक में भी फ्रंट ग्रिल की तरह ट्राई-एरो डिजाइन दिया गया है। फैब्रिक का रंग टिआगो के मुकाबले थोड़ा लाइट है। फीचर्स के तौर पे आपको हरमन-कार्डों म्यूजिक सिस्टम, फुली डिजिटल ड्राइवर डिस्प्ले, Android Auto और Apple CarPlay से लेसे टचस्क्रीन, रिवर्स कैमरा और ऑटोमैटिक AC मिलता है। टिगोर में रेन-सेंसिंग विपर्स और ऑटो-LED है ख़ास जो टिआगो में नामौजूद है।

इंजन और ट्रांसमिशन:

टाटा मोटर्स ने टिगोर और टियागो में 1.2-लीटर, Revtron पेट्रोल इंजन इस्तेमाल किया है। सीएनजी मोड में ये 3-सिलेंडर इंजन 74 हॉर्सपावर और 95 Nm की पीक टॉर्क जेनरेट करता है, वहीं पेट्रोल मोड में आउटपुट बढ़ के 86 हॉर्सपावर और 113 Nm टॉक पैदा करता है। इंजन को 5-स्पीड मैनुअल ट्रांसमिशन से जोड़ा गया है। बाजार में अन्य सीएनजी कारों की तरह, टाटा कारों में भी ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन की सुविधा नहीं है।

मैकेनिकल बदलाव

सीएनजी किट (60-लीटर टैंक) को जोड़ने के कारण पेट्रोल टिगोर की तुलना में वजन 100 किलो बढ़ गया है। अतिरिक्त वजन की भरपाई के लिए, सस्पेंशन में बदलाव किये गए हैं, जिससे की ग्राउंड क्लीयरेंस में भी कटौती हुई है। दूसरी ओर, टिगोर सीएनजी के पिछले टायर्स भी पेट्रोल वैरिएंट के मुकाबले मोटी दिए गए है।

पिकअप और परफॉरमेंस

टिगोर सीएनजी में ज़्यादा पावरफुल इंजन होने के कारन पिक-अप दूसरी सीएनजी गाड़ियों से बेहतर है। कंपनी सीएनजी मोड में औसतन 26.5 किमी/किलोग्राम का दावा कर रही है। हालांकि ये ऑरा और द्जिरे सीएनजी से काफी कम भी है। टिगोर सीएनजी को आप 80 kmph से 100 kmph के बीच आसानी से ड्राइव कर सकते हैं। ख़राब रास्तो और असमतल सतह पर भी टिगोर अपनी अच्छी राइड क्वालिटी को बरक़रार रख पाता है।

सुरक्षा में ठोस

Tigor और Tiago दोनों ने ग्लोबल क्रैश टेस्ट रेटिंग में 4-स्टार मिले थे। सीएनजी वेरिएंट पर समान स्कोर लागू नहीं होते, हालांकि, टाटा मोटर्स को सीएनजी के साथ भी समान परिणाम प्राप्त करने का भरोसा है। सुरक्षा उपकरणों की सूची में डुअल एयरबैग, ABS के साथ EBD और कॉर्नरिंग स्टेबिलिटी कंट्रोल शामिल किये गए हैं।

Edited By Atul Yadav

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept