dengue spread in dehradun

रविवार को भी खुले अस्पताल, 273 मरीजों ने लिया उपचार

जागरण संवाददाता, देहरादून: डेंगू के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए सरकारी अस्पताल रविवार को भी खुले रहे। कोरोनेशन व गाधी शताब्दी नेत्र चिकित्सालय में आम दिनों की ही तरह ओपीडी हुई और मरीजों की पैथोलॉजी जांच भी की गई। कोरोनेशन में 172 और गाधी में 101 मरीजों का इलाज किया गया। इसमें अधिकतर वायरल और डेंगू के संदिग्ध मरीज थे। इसके साथ ही संदिग्ध मरीजों के सैंपल भी लिए गए।

शहर में डेंगू के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। स्थिति ये कि इस बार तीन साल का रिकॉर्ड टूट गया है। ऐसे में स्वास्थ्य महकमा अब किसी भी तरह का रिस्क नहीं लेना चाहता है। पहले से ही आकड़ों को लेकर अपनी किरकिरी करा चुका महकमा अब फूंक-फूंककर कदम रख रहा है। इसी को देखते हुए रविवार को कोरोनेशन अस्पताल व गाधी शताब्दी नेत्र चिकित्सालय खुले रहे। जहां चिकित्सकों ने मरीजों को इलाज के साथ-साथ उन्हें जागरूक भी किया। इसके अलावा लैब में 80 सैंपल एकत्र किए गए। सीएमएस डॉ. बीसी रमोला ने बताया कि अधिकतर मरीज बुखार और वायरल की शिकायत लेकर आए थे। उन्होंने बताया कि पूरे दिन अस्पताल में स्टाफ मौजूद रहा। इमरजेंसी में भी कई मरीजों का उपचार किया गया है। डीजी और सीएमओ भी उतरे फील्ड में

देहरादून में अब तक 1788 मरीजों में डेंगू की पुष्टि हो चुकी है। इनमें भी अभी निजी अस्पतालों में इलाज करा रहे मरीजों की संख्या शामिल नहीं है। डेंगू से अब तक आठ मरीजों की मौत भी हो चुकी है। जिनमें चार का स्वास्थ्य विभाग डेथ ऑडिट करा रहा है। ऐसे में स्वास्थ्य महकमा पूरी तरह से हलकान है। रविवार को भी स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी फील्ड में रहे। स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ. आरके पाडे, सीएमओ डॉ. एसके गुप्ता ने अस्पतालों का निरीक्षण कर डेंगू की स्थिति का अपडेट लिया। इसके साथ ही मरीजों का हालचाल भी जाना।

Read Source