Dubious death: आखिर किस तरह लखीमपुर, फतेहपुर, बस्ती और गोंडा में पांच मौतें

Sat, 20 May 2017 12:02 AM (IST)

लखनऊ (जेएनएन)। पूर्ववर्ती अखिलेश सरकार रही हो या वर्तमान की योगी सरकार उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था में कोई सुधार नहीं है। लखनऊ में आइएस अधिकारी का मृत पाया जाना अपने आपमें पुलिस को उलझाने वाला विषय है लेकिन प्रदेश में इस तरह की मौतों का सिलसिला जारी है। आए दिन जिलों में ऐसे देखने को मिलते हैं। आज फतेहपुर में एक नलकूप आपरेटर संदिग्ध हालात में नलकूप पर मृत पाए गए जबकि बस्ती जिले में कुछ लोग एक युवक की हत्या कर गन्ने के खेत में फेंककर चले गए। गोंडा में विवाहिता संदिग्ध हालात में फंदे से लटकी मिली जबकि लखीमपुर में प्रमी युगल मारकर पेड़ों से लटका दिए गए। यह सभी मौत के मामले संदिग्ध हैं। इनमें कहीं न कहीं हत्या का संदेह किया जा रहा है। पुलिस मामलों की छानबीन कर रही है।

यह भी पढ़ें: योगी की चेतावनीः अपराधियों को ठेकेदारी कराने वालों की खैर नहीं 

प्रेमी युगल को मारकर पेड़ों से लटकाया

लखीमपुर के नीमगांव थाना क्षेत्र में शुक्रवार सुबह एक प्रेमी युगल के शव गांव के बाहर संदिग्ध हालात में दो अलग-अलग पेड़ों से लटकते मिले। इन दोनों की लड़की के पिता ने अपने साथियों संग मिलकर गला दबाकर हत्या करने के बाद शवों को पेड़ों से लटका दिया, जिसका जुर्म उसने खुद थाने जाकर स्वीकार कर लिया। 

यह भी पढ़ें: सीतापुर के एक छात्र ने ऐसे रचा खुद के अपहरण का ड्रामा

संदिग्ध हालत में नलकूप आपरेटर की मौत
फतेहपुर के गाजीपुर क्षेत्र के अयाह गांव में बीती रात किसी समय नलकूप आपरेटर संदिग्ध हालात में पानी भरे गड्ढे में गिरकर मृत पाए गए। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। हालांकि पुलिस शराब के नशे में पानी भरे गड्ढे में गिरने से मौत होना मानकर चल रही है। अयाह गांव निवासी फूल सिंह बिंदकी कोतवाली के गोकुलपुर गांव में सिंचाई विभाग के नलकूप आपरेटर थे। वह रात घर से आए लेकिन वापस नहीं लौटे। आज भोर ग्रामीणों की नजर गड्ढे में पड़ी जहां आपरेटर मृत अवस्था में पड़े थे। परिवार वालों ने हत्या का संदेह जताया है। एसओ रमेश पटेल का कहना था कि ग्रामीणों से जांच में स्पष्ट हुआ है कि नलकूप आपरेटर शराब पीने के आदी थे नशे की हालत में गड्ढे में गिरकर उनकी मौत हो गई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने का इंतजार किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: CAG report: बीस करोड़ बेरोजगारी भत्ता बांटने के लिए 15 करोड़ समारोह पर खर्च

बस्ती में युवक की हत्याकर फेंका

बस्ती जिले में एक गन्ने के खेत मे हत्या कर फेंकी युवक की लाश बरामद होने से इलाके मं सनसनी फैल गई। यह लाश हर्रैया थाना क्षेत्र के हर्रैया-बभनान मार्ग पर घटमापुर गांव के निकट गन्ने के खेत में हत्या कर फेंकी गई है। युवक की उम्र करीब 30 वर्ष एहोने का अनुमान है। मृतक के सीने में गोली लगी है। उसकी पहचान नहीं हो पाई है। पुलिस मौके पर पहुंचकर जांच-पड़ताल में लग गई है। आगे की कार्रवाई जारी है। 

यह भी पढ़ें: CAG report: हवा-पानी ही नहीं जमीन के अंदर तक ठूंस दिया गया प्रदूषण

गर्भवती फंदे पर लटकती दिखी

गोंडा के कटराबाजार थाना क्षेत्र के रमपुरवा देवापसिया निवासी राजेश कुमार की 22 वर्षीय पत्नी खुशबू को संदिग्थ परिस्थितियों में छत के कुंडे से लटकते देखा गया। मृतका के बाबा नकौडी शाहपुर फखरपुर जिला बहराइच निवासी दुर्गा प्रसाद ने तहरीर देकर कहा कि उसने खुशबू का विवाह दो वर्ष पूर्व देवापसिया निवासी सुशील कुमार के पुत्र राजेश कुमार शुक्ल के साथ किया था। वर पक्ष आए दिन लड़की को 50 हजार रुपये व बाइक दहेज में लाने के लिए प्रताडि़त करते थे। उसकी बेटी गर्भवती थी। दहेज की लालच में उसकी बेटी की सास व पति ने हत्या कर शव को छत के कुंडे से टांग दिया। प्रभारी उप निरीक्षक डीपी सिंह ने बताया कि मृतका के बाबा दुर्गा प्रसाद की तहरीर पर पति राजेश कुमार व सास शांती देवी के खिलाफ दहेज हत्या सहित अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। 

यह भी पढ़ें: ऑनर किलिंगः लखीमपुर और बिजनौर के दो प्रेमी जोड़ों को मिली मौत

Tags: # Fatehpur ,  # UP Crime ,  # Dubious death ,  # Killing ,  # Youngman Killed ,  # Basti ,  # Tubewell operator ,  # IAS death ,  # Murder or suicide ,  # Uttar pradesh , 

PreviousNext
 

संबंधित

अलीगढ़ में पत्नी और दो बेटियों की हत्या कर मौत को गले लगाया

अलीगढ़ के बेगमबाग के लोग चार मौतों से सिहर गए। एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी व दो बेटियों की हत्या करने के बाद खुदकशी कर ली। इस लोमहर्षक वारदात की वजह आर्थिक तंगी बतायी जा रही है।