जब भी तेरी याद आई तुझे भुला कर रोए
Mon, 17 Jul 2017 09:05 AM (IST)

कभी रो कर मुस्कुराए कभी मुस्कुरा कर रोए

जब भी तेरी याद आई तुझे भुला कर रोए,

एक तेरा ही तो नाम था जिसे हजार बार लिखा

जितना लिख कर खुश हुए उससे ज्यादा उसे मिटा कर रोए.

Tags: # Friendship shayri ,  # Love shayri in hindi ,  # shayari ,  # love shayri ,  # emotional shayri ,  # romantic shayri ,  # shayri love affairs ,  # Beautiful shayri ,