इश्क की रात हो और बस मोहब्बत का सवेरा हो
Wed, 09 Aug 2017 09:04 AM (IST)

चलो चलें किसी ऐसी जगह जहां कोई न तेरा हो, न मेरा हो,

इश्क की रात हो और बस मोहब्बत का सवेरा हो.

Tags: # shayari ,  # love shayri ,  # emotional shayri ,  # romantic shayri ,  # emotional shayri in hindi ,  # emotional love shayri ,