नफ़रत के बाज़ार में
Mon, 20 Mar 2017 04:42 PM (IST)

नफ़रत के बाज़ार में प्यार की अहमियत क्या होगी

बेवफा के लिए वफ़ा की कीमत क्या होगी

जो मरते हो हर पल दौलत-ऐ-शान के खातिर

उस इंसा के लिए एक इंसा की कीमत क्या होगी

Tags: # shayri ,  # Hindi shayri ,  # Life shayri ,  # shayri in hindi ,