आठ माह की इस बच्ची का वजन है 20 किग्रा. जन्म के समय थी सामान्य

Fri, 21 Apr 2017 12:16 PM (IST)

अमृतसर में रहने वाली इस आठ माह की बच्ची का वजन 20 किग्रा. है। चाहत नाम की इस बच्ची का आकार सामान्य बच्चों की तुलना में बहुत ही तेजी से बढ़ रहा है। 

बच्ची की मां के अनुसार जन्म के समय ये बच्ची सामान्य थी लेकिन कुछ माह बाद ही इसका वजन काफी तेजी से बढऩे लगा। देखते ही देखते हैं उसके शरीर पर मोटी चमड़ी की परत चढ़ गई। हाथ-पांव, पेट और चेहरा भारी हो गया। शरीर की चमड़ी लटकने लगी। वह सारा दिन सुस्त रहने लगी। डॉक्टर को दिखाया पर चाहत का मर्ज समझ नहीं आया। वैसे आठ माह की बच्ची का औसतन वजन 5-6 किग्रा. होता है पर चाहत का आकार दिनोंदिन बढ़ता ही जा रहा है। सिर्फ मां का दूध पीकर चाहत का वजन 20 कि ग्रा. हो गया है। दूध के अलावा वह न कुछ खाती है और न कुछ पीती है। बच्ची का व्यवहार साधारण बच्चों की तरह ही है। फिलहाल इस बच्ची को एक निजी डॉक्टर को दिखाया जा रहा है यहां उसके  हारमोनल टेस्ट किए गए हैं।

ये बच्ची मां की गोद में आना चाहती है पर मां के लिए उसे उठाना बड़ा मुश्किल काम है। डॉक्टर भी उसके वजन को देखकर दंग हैं। अधिक वजन होने के कारण उसकी त्वचा भी काफी कड़ी हो गयी है। डॉक्टर ब्लड टेस्ट के लिए  बोलते हैं लेकिन त्वचा सख्त होने के कारण सीरिंज अंदर नही जा पाती और न ही कोई नस नजर आती है। बच्ची के पिता सूरज की आर्थिक स्थिति मजबूत  न होने के कारण वह चाहत का ठीक से इलाज करवाने में असमर्थ है। जितने पैसे थे वो इस बच्ची के टेस्ट में खर्च हो गये हैं। सूरज को आस है कि शायद कोई समाज सेवी संस्था उनकी सहायता करे तो बच्ची को सामान्य स्थिति में लाया जा सकता है।

(Source: Indian Express)

यह भी पढ़ें:

आखिर क्यों समुद्र में ही रहती है इंसानों की ये प्रजाति


बेहद खूबसूरत है ये गांव यहां सड़क नही केवल हैं नहरें

Tags: # baby weight ,  # Punjab baby ,  # obese baby ,  # fat baby ,  # eight months ,  # odd news ,  # jara hat ke ,  # Interesting news , 

PreviousNext
 

संबंधित

उम्र नौ माह, वजन 20 किलो, खुराक तीन रोटी

महज नौ माह की उम्र में वजन 20 किलोग्राम हो और खुराक भी तीन रोटी व दूध हो तो हैरत में पडऩा स्वाभाविक ही है। पर कांधला (उत्तर प्रदेश) में नौ माह की बालिका की यही खुराक है। उसे देखने लोगों का हुजूम लगा रहता है। डॉक्टर इसे खतरनाक बीमारी