सीरिया में मिसाइल अटैक के बाद रूस ने निलंबित की अमेरिका से संधि

Fri, 07 Apr 2017 03:27 PM (IST)

मास्‍को (एएफपी)। सीरिया में गुरुवार रात को अमेरिका द्वारा किए गए मिसाइल हमले के बाद से गुस्‍साए रूस ने सीरिया के आसमान में दोनों सेनाओं के विमानों के बीच होने वाले गतिरोध को रोकने वाली संधि को फिलहाल निलंबित कर दिया है। रूस ने इस हमले को एक संप्रभुत्व देश में गैरकानूनी तौर पर किया गया अतिक्रमण बताया है। क्रेमलिन से जारी एक बयान में रूस ने कहा है कि अमेरिका ने यह हमला कर अंतरराष्‍ट्रीय नियमों का उल्‍लंघन किया है। इस बयान को क्रेमलिन ने अपने आधिकारिक वेबसाइट पर भी डाला है।

अमेरिकी हमले के बाद रूस के विदेश मंत्रालय ने वर्ष 2015 में हुए इस करार को निलंबित कर दिया है। इसके तहत दोनों देशों के बीच एक हॉटलाइन तैयार की गई थी जो सीरिया के आसमान में एक दूसरे के विमानों के बीच तालमेल बिठाने का काम करती थी। इस करार के बाद दोनों देशों के विमानों को आमने- सामने आने से रोका जा सकता था। क्रेमलिन ने अपनेे बयान में कहा है कि सीरियाई सेना के पास रासा‍यनिक हथियार नहीं हैं। इस बयान में कहा गया है कि इस तरह का बयान अंतरराष्‍ट्रीय समुदाय का ध्‍यान भटकाने के लिए किया जा रहा है।

गौरतलब है कि मंगलवार को सीरिया में हुए रासायनिक हमले के बाद गुरुवार रात को अमेरिका के राष्‍ट्रपति ने सीरिया में मिसाइल से हमला करने के आदेश दिए थे। जिसकेे बाद सीरिया के मिलिट्री एयरबेस और फ्यूल डिपो को निशाना बनाया गया था। सीरिया में वर्ष 2015 से ही रूस बशर अल असद के समर्थन में लगातार विद्रोही गुटों पर हमले कर रहा है।

यह भी पढ़ें: अमेरिका और रूस की खींचतान के बीच क्‍या होगा सीरिया का भविष्‍य, बड़ा सवाल

यह भी पढ़ें: सीरिया में किए गए मिसाइल हमले पर ज्‍यादातर यूएस सिनेटर्स ने किया ट्रंप का समर्थन

Tags: # US strike on on a Syrian airbase ,  # US aggression in Syria ,  # Russia suspended a bilateral agreement with US ,  # Syria war torn country ,  # President Vladimir Putin ,  # US President Donald Trump ,  # Syrian President Bashar al Assad ,  # Chemical attack in syria , 

PreviousNext
 

संबंधित

सीरिया की 7वर्षीय बच्‍ची ने की भावुक अपील- 'बंद करो मासूमों का खून बहाना'

सीरिया की एक सात वर्षीय बच्ची ने वहां पर अमेरिका द्वारा किए गए मिसाइल हमले के लिए डोनाल्ड ट्रंप की तारीफ की है। उसने कहा है कि अब मासूमों के कातिलों को सजा मिलनी चाहिए।