गोरखालैंड आंदोलन: आज जीजेएम प्रमुख बिमल गुरुंग से मुलाकात करेंगे राजनाथ

Sun, 13 Aug 2017 01:51 PM (IST)

नई दिल्‍ली, जेएनएन। केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने गोरखालैंड मुद्दे पर बातचीत करने के लिए जीजेएम (गोरखा जनमुक्ति मोर्चा) प्रमुख बिमल गुरुंग को बुलाया है। हालिया समय में यह दूसरी बार है, जब राजनाथ ने गुरुंग से संपर्क किया है। आपको बता दें कि गोरखालैंड की मांग को लेकर लंबे समय से दार्जिलिंग में विरोध-प्रदर्शन चल रहा है।

गुरुंग ने एक बयान में बताया कि जीजेएम को केंद्रीय गृह मंत्री की ओर से एक सूचना पत्र मिला है जिसमें आज शाम साढ़े चार बजे नई दिल्‍ली में बातचीत के लिए बुलाया गया है। उन्‍होंने कहा, मैं गृहमंत्री को हमें बुलाने के लिए धन्यवाद देता हूं। उम्मीद करता हूं कि केंद्र सरकार गोरखा लोगों की मांग के मामले में इंसाफ करेगी।

वहीं गुरुंग ने यह भी उम्‍मीद जताई कि सभी पार्टियां इस बैठक में हिस्सा लेंगी और गोरखालैंड के लिए कोई न कोई रास्ता जरूर निकालेंगी। गुरुंग के अनुसार, यह आंदोलन अब जन आंदोलन में तब्‍दील हो गया है।

यह भी पढ़ें: शशिकला ने AIADMK कैडर से कहा- मुझसे महसूस करें 'अम्‍मा' जैसा प्‍यार


Tags: # Gorkhaland agitation ,  # Rajnath Singh ,  # GJM chief Bimal Gurung ,  # Gorkha Janmukti Morcha ,  # गोरखालैंड आंदोलन ,  # राजनाथ सिंह , 

PreviousNext
 

संबंधित

गोरखालैंड आंदोलन: दार्जिलिंग में फिर बेमियादी बंद

दार्जिलिंग [जागरण संवाददाता]। पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग में नए राज्य गोरखालैंड की मांग को लेकर गोरखा जनमुक्ति मोर्चा [गोजमुमो] ने फिर बेमियादी बंद की घोषणा की है। अपने दो वरिष्ठ नेताओं की गिरफ्तारी से नाराज गोजमुमो प्रमुख विमल गुरुंग ने गुरुवार से अनिश्चितकालीन दार्जिलिंग बंद का आह्वान किया। उन्होंने जनता से ज्यादा दिनों के लिए भोजन आदि का प्रबंध करने की अपील की।