खेल-खेल में सीख रहे बच्चे

Tue, 17 Feb 2015 09:17 PM (IST)

राज्य ब्यूरो, नई दिल्ली : प्रगति मैदान में आयोजित विश्व पुस्तक मेले में चौथे दिन काफी दर्शक पहुंचे। इससे प्रकाशकों के चेहरे खिल गए। कई पुस्तकों का विमोचन भी हुआ। बाल मंडप में बच्चे रोचक गतिविधियों के जरिए खेल-खेल में पढ़ाई भी कर रहे हैं। मंगलवार सुबह से इस मंडप में स्कूली बच्चे गतिविधियों में भाग लेते दिखे। प्रथम बुक्स प्रकाशन ने वन्य जीव संरक्षण पर सत्र आयोजित किया। इसका संचालन मनीषा चौधरी तथा हिमाशु गिरी ने किया। सरकारी स्कूलों से आए बच्चों को वन्य जीवों के बारे में रोचक जानकारी दी गई। बच्चों को बताया गया कि किस प्रकार उनकी सहायता कर सकते हैं। बाल मंडप में डॉ. हरिकृष्ण देवसरे चिल्ड्रन्स लिटरेचर ट्रस्ट के सहयोग से नेशनल बुक ट्रस्ट (एनबीटी) ने 'चलो बनाएं एक कहानी' नाम से कहानी रचना सत्र आयोजित किया। बच्चों ने कहानी के विषय सुझाए व कहानियों की रचना भी की।

एनबीटी ने भी कार्यक्रम आयोजित किया, जिसमें प्रसिद्ध कार्टूनिस्ट आरके लक्ष्मण को श्रद्धाजलि दी गई। कार्यक्रम में प्रसिद्ध कार्टूनिस्ट आबिद सुरती, शरद शर्मा तथा तन्मय त्यागी उपस्थित थे। एनबीटी तथा सेंट स्टीफंस कॉलेज के अनुवाद केंद्र ने संगोष्ठी का आयोजन किया। उद्घाटन अवसर पर एनबीटी के चेयरमैन ए. सेतुमाधवन ने कहा कि भाषा की कोई सीमा नहीं होती है, अनुवाद में भी कोई सीमा नहीं होनी चाहिए। अनुवाद साहित्यिक आदान-प्रदान तथा विभिन्न क्षेत्रों व भाषाओं के लोगों को समीप लाने का कार्य करता है। सत्र की अध्यक्षता सेंट स्टीफंस कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. वाल्सन थंपू ने की।

दिखी पूर्वोत्तर की झलक

थीम मंडप में पूर्वोत्तर से संबंधित कई कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। पुस्तकप्रेमियों को पूर्वोत्तर भारत के सास्कृतिक परिवेश से रूबरू कराया जा रहा है। भारतीय भाषा उत्सव ने 'समन्वय परिचय' कार्यक्रम के तहत 'इनसाइड आउट-लिविंग ऑन द एज ऑफ ए नेशन' विषय पर परिचर्चा आयोजित की। इसमें पूर्वोत्तर की प्रसिद्ध लेखिका मित्रा फुकन, असमिया व अंग्रेजी भाषा के लेखक एवं अनुवादक अरुणी कश्यप तथा जेनिस पेरियर उपस्थित थे। थीम मंडप में नागालैंड की तेत्सिओ सिस्टर्स ने गीत प्रस्तुत किए।

साहित्यिक हलचल

साहित्य मंच में 'नवगीत' विषय पर चर्चा का आयोजन किया गया। मंच का संचालन ओमप्रकाश तिवारी ने किया। इस मौके पर नवगीतकार राधेश्याम बंधु, सौरभ पाडेय, आचार्य संजीव वर्मा 'सलिल', डॉ. जगदीश व्योम तथा राकेश पाडेय उपस्थित थे। समाज में घट रही घटनाओं को समाहित कर गीतात्मक स्वरूप देना नवगीत है।

डीयू कुलपति ने किया पुस्तक का विमोचन

दिल्ली विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. दिनेश सिंह ने अंक ज्योतिष अशोक भाटिया के पुस्तक का विमोचन पुस्तक मेला में किया। इस अवसर पर कई अन्य ज्योतिषाचार्य उपस्थित थे। अशोक भाटिया ने बताया कि पुस्तक उन लोगों के लिए उपयोगी है जो ज्योतिष में रुचि रखते हैं। वे कई सवालों के जवाब वह स्वयं पुस्तक से ढ़ूंढ सकते हैं।

PreviousNext
 

संबंधित

खेल-खेल में सीख रहे बच्चे

राज्य ब्यूरो, नई दिल्ली : प्रगति मैदान में आयोजित विश्व पुस्तक मेले में चौथे दिन काफी दर्शक पहुंचे।