होम»»

2000 रुपए के नए नोट के बारे में अब हो गया यह बड़ा खुलासा, जानिए

Fri, 17 Feb 2017 08:01 PM (IST)

नई दिल्ली। केंद्र सरकार की ओर से लिए गए नोटबंदी के फैसले पर बड़ा खुलासा हुआ है। यह खुलासा नवंबर महीने में आरबीआई की ओर से जारी किए गए 2000 रुपए के नए नोट के संबंध में है। एक अंग्रेजी दैनिक में छपी खबर के मुताबिक 2000 रुपए के नए नोट पर भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर उर्जित पटेल के हस्ताक्षर हैं, लेकिन इन नए नोटों की छपाई तभी शुरू हो गई थी जब रघुराम राजन आरबीआई के गवर्नर बने हुए थे। यह जानकारी 2000 रुपए के नोट छापने वाली आरबीआई की दो प्रिंट प्रेस ने दी है।

आरबीआई की दो प्रिंट प्रेस ने दी जानकारी:
आरबीआई की दो प्रिंट प्रेस ने यह जानकारी देते हुए बताया कि नोटों की छपाई की पहली प्रक्रिया 22 अगस्त 2016 को शुरू हुई थी। यह वह समय था जब रघुराम राजन आरबीआई के गवर्नर थे।

प्रिंटिंग प्रेस ने बताया कि गवर्नर पद के लिए उर्जित पटेल के नाम की घोषणा होने के बाद यह पहला वर्किंग डे था। इस दिन तक पटेल ने रघुराम राजन से चार्ज नहीं लिया था। वहीं नोटों पर राजन की जगह पटेल के हस्ताक्षर होने पर सवाल भी खड़े होने लगे थे। इस बात को लेकर आरबीआई और वित्त मंत्रालय से ईमेल के जरिए जानकारी मांगी गई थी कि 2000 रुपए के नए नोट को जारी करने में रघुराम राजन की भूमिका थी या नए नोटों में किसी और वजह से उनके हस्ताक्षर नहीं रखे गए।

गौरतलब है कि बीते साल 8 नवंबर को नोटबंदी के बाद आरबीआई ने 500 और 2000 रुपए के नए नोट जारी किए थे जिसमें उर्जित पटेल के हस्ताक्षर थे। उर्जित पटेल ने बीते साल सितंबर महीने में ही गवर्नर पद संभाला था।

Tags: # urjit patel ,  # RBI ,  # Raghuram Rajan ,  # Demonetization ,  # Printing press , 

PreviousNext
 

संबंधित

जानिए, अारबीअाई के नए गवर्नर उर्जित पटेल के बारे में

पटेल बोस्टन कंसल्टिंग ग्रुप और रिलायंस इंडस्ट्रीज के साथ काम किया है। भारत की मुद्रास्फीति लक्ष्य और दर-सेटिंग पैनल के प्रमुख सलाहकार रहे हैं।